मथुरा में महिलाओं ने किया पथराव, पुलिस ने भागकर बचाई जान

अवैध कट्टीघर पर छापा मारने गई थी कोतवाली पुलिस, जान के पड़े लाले मौके से माँस के साथ गिरफ्तार किए गए शख्स को सपा पार्षद द्वारा छुड़वाए जाने की चर्चा

0
2489

मथुरा, 14 दिसंबर 2017 (ब्यूरो) ।
मथुरा में योगी की पुलिस के साथ बदसलूकी की खबर है। यहाँ महिलाओं द्वारा पुलिस पर पथराव किए जाने की सूचना है। बताया जा रहा है कि पुलिसकर्मियों ने भागकर अपनी जान बचाई और महिलाओं ने उन्हें सड़क तक दौड़ाया। यह घटना पास के ही एक होटल के सीसीटीवी कैमरे में कैद भी हो गई बताई जाती है। लेकिन पुलिस इसका दूसरा ही रूप बताया जा रहा है।

दरअसल मथुरा की कोतवाली पुलिस आज पूर्वान्ह 9:30 से 10 बजे के मध्य अपने क्षेत्र के मनोहरपुरा में उस अवैध कट्टीघर पर छापा मारने के लिए गई थी, जिसे योगी सरकार के बनने के बाद पुलिस प्रशासन ने सील करा दिया था।

छापे के दौरान पुलिस को कट्टीघर की सील टूटी मिली और वहां से मांस भी बरामद हुआ। इतना ही नहीं पुलिस ने मौके से बड़ा पुत्र शौकत नामक एक शख्स को भी गिरफ्तार कर लिया।

लेकिन इसी बीच अवैध रूप से कटान करने वाले अन्य लोग अपने परिवारों की महिलाओं को आगे ले आए, जिनके द्वारा पुलिस पर पथराव कर दिया गया। पथराव के दौरान पुलिसकर्मियों ने भागकर अपनी जान बचाई। दरेसी रोड के इस्लामिया इंटर कॉलेज के सामने वाली गली से पुलिसकर्मी भागते हुए सड़क पर आए और उनके पीछे उन्हें दौड़ाती हुई महिलाएं भी आईं।

यह घटना पास के ही मजीद होटल के सीसीटीवी कैमरे में कैद भी हो गई बताई जाती है। लेकिन जब पुलिस से इस संबंध में बात की गई तो पुलिस ने इस घटना को अपना रुटीन भ्रमण बताया और कहा कि अवैध पशु कटान की आशंकाओं के मध्य क्षेत्र का जायजा लिया गया था।

इसके बाद इस प्रकार की खबरें भी आईं कि माँस कारोबारियों पर पुलिस हुई सख्त, कारोबारियों में मचा हड़कंप आदि जबकि क्षेत्रीय लोगों के अनुसार सच्चाई क्या है, यह वही जानते हैं ?

बताया जाता है कि योगी की पुलिस द्वारा आज गुरूवार को यह कार्यवाही हिंदूवादियों के भारी दबाव में की गई। लेकिन उसका भी नतीजा ढाक के तीन पात रहा। मौके से बड़ा नामक जिस शख्स को गिरफ्तार किया गया था, उसे भी क्षेत्रीय सपा पार्षद जाकिर द्वारा छुड़वा ले जाए जाने की सूचना है।

बताया जाता है कि इससे पहले पुलिस ने शुक्रवार रात को भी यहां पर छापा मारा था, तब करीब डेढ़ टन मीट बरामद हुआ था

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here