केंद्र व्यवस्थापकों की बैठक में सुव्यवस्थित और नकलविहीन बोर्ड परीक्षाएं कराने के दिए गए निर्देश

0
84

 

(वेद प्रकाश गौतम)
मथुरा 22 दिसंबर।
यूपी बोर्ड परीक्षाओं के लिए परीक्षा केंद्र निर्धारित कर दिए गए हैं। परीक्षाओं को नकल विहीन संपन्न कराने के लिए शासन द्वारा संबंधित अधिकारियों को सख्त हिदायत दी गई है। इसके लिए शासन ने बाकायदा दिशा निर्देश जारी किए हैं। इन दिशा निर्देशों को लेकर जिला विद्यालय निरीक्षक अरुण कुमार दुबे द्वारा भैंस बहोरा स्थित केआर कन्या इंटर कॉलेज में एक बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें जीआईसी के प्रिंसिपल संतोष कुमार सारस्वत भी मौजूद रहे।

बैठक में जनपद के परीक्षा केंद्र व्यवस्थापकों ने भाग लिया लिया। इस दौरान केंद्र व्यवस्थापकों को अपने विद्यालयों में सीसीटीवी कैमरों की व्यवस्था सुनिश्चित करने, आवश्यकतानुसार फर्नीचर लगवाने, स्कूल की बाउंड्रीवाल ठीक करवाने आदि के निर्देश दिए गए। उन्होंने केंद्र व्यवस्थापकों को हिदायत दी कि वे अपने विद्यालयों की व्यवस्थाओं को चाक चौबंद कर लें। परीक्षा केंद्रों पर कोई भी अव्यवस्था बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जिला विद्यालय निरीक्षक ने खुले में परीक्षार्थियों को न बिठाए जाने की सख्त हिदायत दी।

परीक्षा के दौरान सचल दलों में महिलाकर्मियों का होना भी आवश्यक बताया गया। कोई भी पुरुष शिक्षक या सचल दल कर्मी बालिकाओं की तलाशी नहीं लेगा। इसके साथ ही विद्यालयों के प्रबंधक परीक्षा की दौरान विद्यालय से कम से कम 200 मीटर की दूरी पर रहेंगे।
बैठक में आए परीक्षा केंद्र व्यवस्थापकों ने जिला विद्यालय निरीक्षक अरुण कुमार दुबे के सामने अपनी समस्याएं भी रखीं, जिनके निराकरण का उनके द्वारा आश्वासन दिया गया।

जिला विद्यालय निरीक्षक श्री दुबे ने जो निर्देश दिए हैं, वो नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए बहुत आवश्यक हैं। लेकिन इन निर्देशों पर अमल किस तरह होगा, यह सबसे बड़ा सवाल है। सीसीटीवी कैमरों व फर्नीचर की व्यवस्था के लिए जहां सहायता प्राप्त विद्यालयों के पास पर्याप्त धनराशि नहीं है। वहीं वित्तविहीन विद्यालयों में संसाधन होने के बावजूद नकल रोकने की इच्छा शक्ति नजर नहीं आती। ऐसे में सबसे बड़ी चुनौती ऐसी बैठकों में दिशा निर्देश जारी करने के अलावा धरातल पर जनपद में नकल माफिया के तिलिस्म को तोड़ने की होगी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here