मथुरा में साँड़ बना आतंक का पर्याय, करीब 8 घंटे तक जमकर उत्पात मचाने के बाद बड़ी मुश्किल से काबू में आया

0
1409

 

 

योगेश खत्री/राहुल/जग्गा
मथुरा 6 जनवरी 2018 ।
शहर में आज एक साँड़ ने जमकर उत्पात मचाया। आतंक का पर्याय बने इस साँड़ को वन विभाग, पशुपालन विभाग और नगर निगम की टीमों ने बड़ी मुश्किल से अपने काबू में लिया। लेकिन इससे पूर्व करीब 8 घंटे तक इसने घीया मंडी से लेकर घास मंडी तक के क्षेत्र में बेहिसाब कहर बरपाया। करीब आधा दर्जन लोगों के अलावा कुत्ते, बंदर और एक अन्य सांड़ को घायल करने में कोई कोर कसर बाकी नहीं छोड़ी। साँड़ के आतंक के कारण कई दुकानदार अपनी दुकानें देर से खोल पाए और काफी लोगों को अपना रास्ता बदलकर लंबी दूरी तय करते हुए अपने गंतव्यस्थलों पर पहुंचना पड़ा।

सर्दी के मौसम में कोहरे के मध्य इस सांड का आतंक तड़के करीब 4 बजे घीया मंडी क्षेत्र से शुरू हुआ, जहां से निकलते कुत्ते, बंदर अन्य साँड़ और कोई महिला पुरुषों को यह घायल करने लगा। कई गाड़ियों तक को इसने पलट डाला। सुबह 7 बजे तक तो यह साँड़ पूरे चौक बाजार क्षेत्र में चर्चा का विषय बन गया। लोगों में इसे लेकर हाहाकार मच गया और वे सहायता की पुकार करने लगे। लोग यहां से होकर निकलने में डर रहे थे। कचौड़ी और दूध आदि की जो दुकानें सुबह बड़े सवेरे 5 से 6 बजे के मध्य ही खुल जाती थीं, वह भी नहीं खुलीं।

करीब 10 बजे वन विभाग, पशुपालन विभाग और मथुरा वृंदावन नगर निगम की टीमें जेसीबी के साथ घीया मंडी पहुंचीं। लेकिन यह साँड़ आसानी से इनके कब्जे में भी नहीं आया। इसने उन्हें खूब छकाया और लोगों को बहुत डराया।

उत्पाती साँड़ को रस्सियों से बांधा गया। लेकिन फिर भी इसने उत्पात मचाना नहीं छोड़ा। इसे बड़ी मुश्किल से जेसीबी में भर लिया गया। लेकिन अगले ही पल यह उसमें से कूद गया बाद में घास की मंडी में जाकर बड़ी मुश्किल से इस पर काबू पाया जा सकता और इसे अपने कब्जे में लिया जा सका

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here