🙏 आज का पंचांग 🙏

0
36

 

तिथि षष्ठी – 16:05:34 तक

नक्षत्र उत्तर फाल्गुनी – 25:10:04 तक

करण वणिज – 16:05:34 तक, विष्टि – 27:50:54 तक

पक्ष कृष्ण

योग सौभाग्य – 08:26:08 तक, शोभन – 30:45:51 तक

वार रविवार

सूर्य व चन्द्र से संबंधित गणनाएँ

सूर्योदय 07:15:06

सूर्यास्त 17:39:45

चन्द्र राशि कन्या

चन्द्रोदय 23:23:59

चन्द्रास्त 11:15:00

ऋतु शिशिर

हिन्दू मास एवं वर्ष शक सम्वत 1939

हेम्लम्बी विक्रम सम्वत 2074

काली सम्वत 5119

दिन काल 10:24:39

मास अमांत पौष

मास पूर्णिमांत माघ

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)

दुष्टमुहूर्त 16:16:28 से 16:58:07 तक

कुलिक 16:16:28 से 16:58:07 तक

कंटक 10:43:19 से 11:24:57 तक

राहु काल 16:21:41 से 17:39:45 तक

कालवेला / अर्द्धयाम 12:06:36 से 12:48:15 तक

यमघण्ट 13:29:53 से 14:11:32 तक

यमगण्ड 12:27:26 से 13:45:31 तक

गुलिक काल 15:03:36 से 16:21:41 तक

शुभ समय (शुभ मुहूर्त) अभिजित 12:06:36 से 12:48:15 तक

दिशा शूल पश्चिम

चन्द्रबल और ताराबल

ताराबल

भरणी, कृत्तिका, रोहिणी, मृगशीर्षा, पुनर्वसु, आश्लेषा, पूर्वा फाल्गुनी, उत्तर फाल्गुनी, हस्त, चित्रा, विशाखा, ज्येष्ठा, पूर्वाषाढा, उत्तराषाढा, श्रवण, धनिष्ठा, पूर्वभाद्रपदा, रेवती

चन्द्रबल

मेष, कर्क, कन्या, वृश्चिक, धनु, मीन

पंचांग क्या है?

पंचांग या पञ्चाङ्गम् संस्कृत भाषा का शब्द है, जिसका शब्दशः मतलब है पांच अंगों से युक्त वस्तु। इसलिए, पंचांग इन ५ अनिवार्य अंगों से मिलकर बनता है – तिथि, वार, योग, नक्षत्र और करण। इनके अतिरिक्त आधुनिक हिन्दू पंचांग में पर्व, राशिफल, ज़रूरी तारीख़ें और कई अन्य महत्वपूर्ण जानकारियाँ भी शामिल होती हैं। यहाँ, “आज का पंचांग” आपको आपकी जगह के आधार पर प्रत्येक ज़रूरी मुहूर्त, दिशा शूल, सूर्योदय व सूर्यास्त, चन्द्रोदय व चन्द्रास्त आदि बहुत-सी सूचनाएँ उपलब्ध कराएगा। हमें आशा है कि ये जानकारियाँ आपके लिए उपयोगी सिद्ध होंगी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here