एएमयू छात्र के आतंकी संगठन में शामिल होने से एएमयू और अलीगढ़ प्रशासन में हड़कंप

0
111

 

सुंदर सिंह
अलीगढ़ 8 जनवरी 2018 ।
अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के रिसर्च स्कॉलर ने आतंक का दामन थाम लिया है। इस आशय का उसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है, जिससे एएमयू और अलीगढ़ प्रशासन में हड़कंप मच गया है।

उत्तरी कश्मीर के कुपवाडा जिले के लोलाब निवासी मनान वानी पांच जनवरी को आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल हुआ है। वह एएमयू से एमफिल करने के बाद एपलाइड जियोलॉजी विषय में पीएचडी कर रहा था और यहां हबीब हॉस्टल में रहता था। इंतजामिया की मानें तो वह फिलहाल ऐसी किसी जानकारी मिलने से इनकार कर रहे हैं। अगर उनसे छात्र मनान के बारे में लिखित में कुछ पूछा जाएगा तो वह अपने स्तर से जांच करेंगे। राष्ट्रीय सुरक्षा बहुत महत्वपूर्ण है। छात्र संलिप्तता पाई जाती है तो स्टूडेंट को एएमयू से निष्काषित कर दिया जाएगा ।

वहीं मनान के दोस्तों का कहना है कि यह एएमयू को बदनाम करने की साजिश है। इस तरह से एकदम से मीडिया को किसी फोटो या वीडियो को नहीं चलाना चाहिए क्योंकि वह एडिट किया हुआ भी हो सकता है। साथी छात्रों का यह भी कहना है कि वह पिछले हफ्ते ही एएमयू में अपने साथियों से मिला था। लेकिन उस वक्त ऐसी कोई गतिविधि नजर नहीं आई। अगर ऐसा है तो गलत है। दरसअल एएमयू के पीएचडी छात्र के आतंकी संगठन हिजबुल में शामिल होने से एएमयू में सनसनी फैल गई है। इस छात्र को आतंकी संगठन हिजबुल ने हमजा भाई कोड दिया है। हालांकि पुलिस की तरफ से कोई भी आधिकारिक पुष्टि नही की गई है मगर सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद से राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए ) सहित कई एजेंसिया हरकत में आ गयी हैं।

अचानक छात्र का हथियार सहित एक वीडियो वायरल होने से हड़कंप मच गया है। इसके बाद एएमयू से लेकर कश्मीर तक यह चर्चाएं सामने आई हैं कि 5 जनवरी को इस छात्र ने आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन जॉइन कर लिया है। इस मामले की पूरी अलीगढ़ मंडल में चर्चा जोरों पर है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here