मिट्टी की ढाय में दबने से युवक की मौत, सदमें में पिता की गई जान

तहसील प्रशासन क्षेत्रीय लोगों की मदद से पौने चार घंटे बाद शव निकालने में हुआ कामयाब, पटियाली तहसील क्षेत्र के गांव जारई में घटित हुआ हादसा, मौत के बाद परिवार में मचा कोहराम

0
169

 

गुड्डू यादव

कासगंज 12 जनवरी 2018।

पटियाली तहसील क्षेत्र के गांव जारई में ट्यूबवैल के बोरवेल की मिट्टी निकालते समय गिरी ढाय में किशोर दब गया, उक्त घटना से गांव में हड़कंप मच गया, मिट्टी की ढाय में किशोर के दबने की सूचना पर जिला प्रशासन ने आनन फानन में घटनास्थल पर जेसीबी भेजकर बचाव कार्य शुरू किया, ग्रामीणों और जेसीबी की मदद से शुभम को पौने चार घंटे बाद मिट्टी से बाहर निकाला जा सका लेकिन तब तक शुभम मिट्टी के अन्दर ही दम तोड़ चुका था।

बताया जा रहा है जगन्नाथ के टयूबवैल के बोरवेल का बाल खराब हो गया था। वह बाल निकालने के लिए 17 वर्षीय बेटा शुभम नीचे घुस कर मिट्टी भर रहा था, जबकि उसका पिता और मिट्टी बाल्टी में भरकर ऊपर खींच रहा था, इसी बीच अचानक मिट्टी की ढाय शुभम के ऊपर गिर गई जिसमें वह दब गया ।

बेटे के दब जाने के बाद पिता की चीखपुकार पर तमाम ग्रामीण एकत्रित हो गए और तहसील प्रशासन को सूचित किया, दो बजे से दबे शुभम को कड़ी मशक्कत के बाद 5ः45 बजे के तकरीबन निकाला जा सका। हालांकि अधिकारियों ने तत्काल शुभम को निकालकर एंबुलेंस से पटियाली स्वास्थ्य केन्द्र में लेकर पहंुचे जहां चिकित्सको ने मृत घोषित कर दिया। मौत की सूचना के बाद शुभम के परिवार में कोहराम मचा हुआ था, काल के गाल में समाये अपने बेटे शुभम की मौत की सूचना मिलने पर बुजुर्ग पिता को सदमा लग गया और बेटे की मौत के 2 घण्टे बाद हृदयगति रुकने से पिता जगन्नाथ की भी मौत हो गई, पु़त्र और पिता की मौत के बाद मानो परिवार पर कहर टूट पड़ा हो, इस गमगीन माहौल में परिवार को धांडस बंधाने वालों का तांता लग गया। सूचना पाकर पहुँच रहे लोगों का भी रो रो कर बुरा हाल हो रहा था।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here