यूपी बोर्ड के परीक्षार्थियों की ली जाएगी तलाशी

माध्यमिक शिक्षा परिषद के शिक्षा निदेशक डॉ अवध नरेश शर्मा ने 6 फरवरी से शुरू हो रहीं माध्यमिक शिक्षा परिषद की परीक्षाओं में नकल एवं अनुचित साधनों की प्रवत्ति पर अंकुश लगाने के लिए दिशा-निर्देश दिए हैं।

0
177

 

वेद प्रकाश गौतम

मथुरा 12 जनवरी 2018

यूपी बोर्ड परीक्षा में नकल रोकने के लिए दिए जा रहे दिशा-निर्देशों के तहत अब एक और नया निर्देश आया है। अब तक जहां परीक्षा केंद्र के अंदर परीक्षार्थियों की तलाशी ली जाती थी, वहीं अब परिसर में प्रवेश करने से पहले ही परीक्षार्थियों को तलाशी देनी होगी। तलाशी के बाद ही उन्हें अंदर प्रवेश करने दिया जाएगा। इसके लिए हर परीक्षा केंद्र पर तीन सदस्यीय आंतरिक निरीक्षण दस्ता गठित करने के निर्देश दिए गए हैं।

निर्देशों के अंतर्गत परीक्षा केंद्र परिसर के अंदर परीक्षार्थियों को पाठ्य पुस्तक ले जाने की अनुमति नहीं है। परीक्षा केंद्र परिसर में प्रवेश के पहले ही प्रवेश द्वार पर परीक्षार्थियों की व्यापक तलाशी ली जाएगी। इसके लिए परीक्षा केंद्र पर विद्यालय शिक्षक एवं केंद्र व्यवस्थापक का तीन सदस्यीय आंतरिक निरीक्षण दस्ता गठित किया जायगा। इस दस्ते में शामिल शिक्षकों को भी कक्ष निरीक्षकों की तरह पारिश्रमिक भत्ता दिया जाएगा।

निर्देशों के अंतर्गत सचल दलों द्वारा परीक्षा में अनुचित साधनों का प्रयोग करते मिले परीक्षार्थियों के साथ कक्ष निरीक्षक, कर्मचारी एवं केंद्र व्यवस्थापक के खिलाफ भी नकल अधिनियम के तहत कार्यवाही की जाए। परीक्षा कक्ष में भी केवल निरीक्षण दल, सचल दल के सदस्य एवं पर्यवेक्षक के रूप में तैनात राज पत्रित अधिकारी ही प्रवेश कर सकेंगे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here