ज्यादा फीस बढाई तो स्कूल संचालकों की खैर नही

-शुल्क अध्यादेश लागू, प्रशासन ने स्कूल संचालकों को कसा

0
253

मथुरा। सरकार ने सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड द्वारा संचालित स्ववित्तपोषित स्कूल  संचालकों के लिए एक अध्यादेश जारी किया है।  इस अध्यादेश के अनुसार स्कूल की ड्रेस फीस कॉपी शिक्षा पाठ्यक्रम को निर्धारित किया गया है। इस अध्यादेश के नियमों के अनुरूप ही स्कूल संचालित किए जाएंगे संचालक फीस के नाम पर अवैध वसूली नहीं कर सकेंगे और अतिरिक्त शुल्क भी नहीं ले सकेंगे। इस अध्यादेश के अनुसार कोई भी स्कूल संचालक किसी भी छात्र पर फीस के लिए दबाव नहीं बना सकता और अतिरिक्त फीस भी उससे नहीं वसूल सकता है। अभी तक स्कूल संचालकों की मनमानी सामने आती रही है एक निर्धारित दुकान से ही ड्रेस कॉपी किताब खरीदे जाते रहे हैं लेकिन आप इस अध्यादेश के अनुसार किसी भी स्कूल की किताब ड्रेस किसी भी दुकान से खरीदी जा सकती है। इस संबंध में शनिवार को कलेक्ट्रेट के सभागार में जिला अधिकारी एस आर मिश्र ने स्कूल संचालकों और अभिभावकों की बैठक बुलाई। इस बैठक में सरकार द्वारा जारी अध्यादेश के संबंध में स्कूल संचालकों और अभिभावकों को जानकारी दी गई है बैठक में अपर जिलाधिकारी आदित्य प्रकाश ने अध्यादेश को पढ़कर सुनाया। स्कूल संचालक संजय पाठक ने स्कूल की व्यवस्थाओं के संबंध में कहा।

स्कूल संचालकों को साफ तौर पर निर्देश जारी कर दिया गया है कि किसी भी आधार पर फीस के नाम पर अवैध वसूली नहीं होनी चाहिए अगर किसी अभिभावक की शिकायत होगी तो उस पर जांच के बाद स्कूल संचालक के विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी। इस दौरान बैठक में उपस्थित ऑल इंडिया पेरेंट्स यूनियन के पदाधिकारी भी उपस्थित रहे जहां उन्होंने स्कूलों में फीस अवैध वसूली के संबंध में भी अपनी दलीलें दी। बैठक के दौरान ऑल इंडिया पेरेंट्स यूनियन के जिलाध्यक्ष कौशल बंसल प्रदीप शर्मा सुषमा अग्रवाल श्याम पालीवाल और एडवोकेट प्रताप सिंह राणा ने कहा कि ज्यादातर स्कूलों में फीस के नाम पर अभिभावकों का शोषण किया जाता है जो नहीं होने दिया जाएगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here