लखनऊ निदेशालय से खटखटाने लगे फोन

-जांच अफसरों पर घोटालेबाजों का बढने लगा दबाव -डायट कार्यालय में सभी भर्ती शिक्षकों की पत्रावलियों की पडताल शुरू

0
1817

 

वेद प्रकाश गौतम/ब्रजवासी

मथुरा। शिक्षक भर्ती घोटाले में नित नई बात सामने आ रही है। बुधवार को डायट कार्यालय में अधिकारियों ने पडताल शुरू की तो लखनऊ निदेशालय से किसी आला अफसर का फोन आ गया। इस फोन को सुनने के बाद अधिकारी दबाव महसूस करने लगे। इधर घोटाले से जुडा कॉकस भी जांच अफसरों पर दबाब बना रहा है यहां तक की धमकियां दी जा रही है।
बुधवार को बाद स्थित डायट पर चयन समिति 216 शिक्षकों की भर्ती के अभिलेखों की जांच में जुटी रही। चयन समिति का कहना है कि भर्ती घोटाले में अभी फर्जीवाड़े के और मामले सामने आ सकते हैं।
नियो न्यूज द्वारा शिक्षक भर्ती घोटाले के खुलासे के बाद जिला चयन समिति अब घोटाले की परतें खोलने में जुट गई है। जिला चयन समिति के अध्यक्ष डायट प्राचार्य डॉक्टर मुकेश अग्रवाल व चयन समिति के सचिव बीएसए संजीव कुमार सिंह भर्ती प्रक्रिया मे चयनित आवेदकों द्वारा जमा किए गए दस्तावेजों की गहनता से जांच कर रहे हैं। इस  प्रक्रिया में बीएसए कार्यालय के कर्मचारी भी शामिल है।
लखनऊ के अधिकारियों के दबाव के साथ-साथ चयन समिति को भर्ती माफिया की धमकियों का सामना भी करना पड़ रहा है विभागीय सूत्रों की माने तो चयन समिति को जांच प्रभावित करने के लिए लगातार धमकियां मिल रही हैं।
चयन समिति ने अभी तक अमित कुमार पोनिया, दिलीप कुमार, हेमलता गिरी, उदय प्रकाश, विनय कुमार दीक्षित, अजय सिंह, देवेंद्र कुमार के नियुक्ति पत्र निरस्त करने के आदेश दिए हैं। बाड़ोंन राया के लाड़ली प्रसाद के अंकपत्र में अंक बढ़ाए जाने का मामला सामने आया है, जिसके लिए उसे नोटिस जारी किया गया है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here