शिक्षकों की भर्ती में एक और फर्जीबाडा 

-लखनऊ में बताया बीटीसी पास, मुख्यालय पर दाखिल किए डीएड के प्रपत्र -नियुक्ति पाए 25 शिक्षक चिंहिनत, सभी की नियुक्ति निष्प्रभावी, नोटिस दिए -दो जिलों से आवेदन करने वाले एक अभ्यर्थी का भी नियुक्ति पत्र निरस्त

0
858

वेद प्रकाश गौतम/ब्रजवासी

मथुरा। शिक्षकों की भर्ती में एक और बडा फर्जीबाडा सामने आया है। जिन लोगों ने नियुक्ति पत्र हासिल कर लिया उनके मूल आवेदन पत्र में दाखिल शिक्षा के स्तर और मुख्यालय पर दाखिल प्रमाण पत्रों में अंतर सामने आया है। ऐसे 25 शिक्षकों की नियुक्ति को निष्प्रभावी कर दिया गया है। इनमें दस शिक्षक अकेले गांव कारब के बताए गए है।
जिले में 216 शिक्षकों की भर्ती में घोटाले के खुलासे के बाद शुरू हुई जाचं में रोज नया घालमेल सामने आ रहा है। पहले दूसरे जनपदों से बीटीसी पास किए 7 शिक्षकों की नियुक्ति रदद की गई। अब 25 ऐसे लोग मिले है जिन्होंने मूल आवेदन में खुद को बीटीसी पास बताया और जिले में दाखिल प्रपत्रों में डीएड के कागज लगा दिए। जांच में ये घालमेल सामने आया तो बीएसए संजीव कुमार सिंह ने सभी 25 शिक्षकों के नियुक्ति पत्र को निष्प्रभावी करते हुए 21 मई को प्रमाण पत्रों के साथ तलब किया है।
इधर एक अभ्यर्थी रिंकू सिंह ने दो जिलों से आवेदन किया और इसके बाद भी मथुरा से नियुक्ति पत्र हासिल कर लिया जांच में पकड में आने के बाद इनका नियुक्ति पत्र निरस्त कर दिया गया है। 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here