शिक्षक भर्ती घोटाले में गिरी गाज

-बीएसए कार्यालय के पटल सहायक महेश शर्मा को निलंबित करने के आदेश

0
463

वेद प्रकाश गौतम

मथुरा। शिक्षकों की भर्ती में हुए फर्जीबाडे की गाज बीएसए कार्यालय के पटल सहायक पर गिरी है। चयन समिति के चेयरमैन और डायट प्राचार्य डा. मुकेश अग्रवाल ने उनके निलंबन की बात कही है। भर्ती घोटाले में नित नए हो रहे खुलासे में बीएसए कार्यालय के कर्मचारियों की मिलीभगत सामने आ रही है।
शिक्षक भर्ती घोटाले के कई ऐसे बिंदु है जो चौंकाने वाले है। मसलन इस भर्ती प्रक्रिया में अकेले गांव कारब के ही 12 शिक्षकों को नियुक्ति पत्र प्रदान किए गए। इनमें 10 ऐसे शिक्षक है जिन्होंने अपने मूल आवेदन में खुद को बीटीसी प्रशिक्षित बताया और बीएसए कार्यालय में दाखिल अपने प्रपत्रों में डीएड के प्रपत्र लगा दिए। बावजूद इसके इन सभी को नियुक्ति पत्र थमा दिए गए। इतना ही नहीं फर्जी अंक पत्र और दो जनपदों से आवेदन करने वाले अभ्यर्थी को भी आंखें मूंद कर नियुक्ति पत्र दे दिया गया। इस सारे खेल में कर्मचारियों की मिलीभगत उजागर हो रही है। इसी शक के चलते घोटाले के खुलासे के बाद पहले दिन खुद डायट प्राचार्य बीएसए कार्यालय आए और अभ्यर्थियों की प़त्रावली को अपने साथ ले गए।
चयन समिति के चेयरमैन डायट प्राचार्य डा. मुकेश अग्रवाल ने बताया कि इस मामले में बीएसए कार्यालय के पटल सहायक महेश शर्मा को निलंबित करने का आदेश दिया है। हालांकि बीएसए संजीव कुमार सिंह ने ऐसा कोई आदेश  देर सायं तक न मिलने की बात कही है।

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here