यमुना में नाले-नालियों की गंदगी आज भी बदस्तूर सीधी प्रवाहित हो रही है

मथुरा वृंदावन पालिकाओं को खत्म कर नगर निगम बना। उसके चुनाव हुए, परिणाम आए। लेकिन नतीजा फिर भी ढाक के तीन पात है। यमुना की दुर्दशा बरकरार है।

0
22

यमुना की दुर्दशा बरकरार

मथुरा के स्वामी घाट का यह नजारा आज 9 दिसंबर 2017 का है। यह दृश्य यमुना की दशा स्वयं बयाँ कर रहा है।

दृश्य में स्पष्ट दृष्टिगोचर हो रहा है कि यमुना में नाले-नालियों की गंदगी आज भी बदस्तूर सीधी प्रवाहित हो रही है और ऐसा सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट्स का सुचारू संचालन न हो पाने के कारण हो रहा है। सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट्स का सुचारू संचालन क्यों नहीं हो पाता है, इसे सभी भली-भांति जानते हैं।

मथुरा वृंदावन पालिकाओं को खत्म कर नगर निगम बना। उसके चुनाव हुए, परिणाम आए। लेकिन नतीजा फिर भी ढाक के तीन पात है। यमुना की दुर्दशा बरकरार है।

देखना होगा कि यमुना प्रदूषण मुक्ति के लिए भक्तों को अभी कितना और करना पड़ता इंतजार है?

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here